अमित शाह से मिलीं ममता बनर्जी, कहा- NRC से डरे हुए हैं लोग, नागरिकों को न करें परेशान

Spread the love

इससे पहले बुधवार को ममता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिष्टाचार मुलाकात की. इस दौरान ममता ने पीएम मोदी को बंगाल आने का न्योता भी दिया.
Amit Shah With Mamta Banerjee | Democracy News

  • बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिली थीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी
  • CM ममता बनर्जी ने PM मोदी को बंगाल आने का भी न्योता दिया

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. अमित शाह से मुलाकात के दौरान उन्होंने एनआरसी को लेकर चिंता जताई. इससे पहले बुधवार को ममता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिष्टाचार मुलाकात की. इस दौरान ममता ने पीएम मोदी को बंगाल आने का न्योता भी दिया. ममता के बदले रुख का भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने स्वागत किया है.

गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद ममता बनर्जी ने कहा, ‘मैं पहली बार गृह मंत्री मिली. मेरा अक्सर दिल्ली आना नहीं होता. कल मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिली थी. यह मुलाकात गृह मंत्री के साथ संवैधानिक दुरुपयोग समेत कई मामलों को लेकर हुई.’

ममता ने गृह मंत्री से मुलाकात के दौरान एनआरसी का मामला भी उठाया. उन्होंने कहा, ‘मैंने उन्हें एक पत्र सौंपा है. मैंने एनआरसी से बाहर किए गए 19 लाख लोगों के बारे में बात भी. इन लोगों में कई बंगाली, गोरखा और हिंदी बोलने वाले लोग भी शामिल हैं. सही नागरिकों को मौका दिया जाना चाहिए. मैं यहां कई मसलों पर चर्चा के लिए आई थी.’ उन्होंने कहा कि एनआरसी से लोग डरे हुए हैं और नागरिकों को परेशान नहीं किया जाना चाहिए.

ममता ने आगे बताया कि गृह मंत्री ने पश्चिम बंगाल में एनआरसी के मामले में कुछ नहीं कहा है. गृह मंत्री ने हमारी सारी बातों को ध्यान से सुना, मुझे लगता है कि वह पॉजिटिव रोल प्ले करेंगे. उन्होंने (शाह) ने भरोसा दिलाया है कि इस मसले पर वह गौर करेंगे.

ममता की शाह से मुलाकात के मायने

इससे पहले ममता बनर्जी ने गृह मंत्री शाह से मिलने की इच्छा ऐसे वक्त जताई है जब सीबीआई कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के खिलाफ हथौड़ा चला रही है.

दरअसल, शारदा चिटफंड मामले में कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का पता लगाने के लिए सीबीआई ने एक विशेष टीम का गठन किया है. साथ ही उनका पता लगाने के लिए सीबीआई कई जगहों पर छापेमारी भी कर रही है. सूत्रों के मुताबिक, राजीव कुमार को तीन बार समन भेजा गया है. वो अब तक हाजिर नहीं हुए हैं.

इससे पहले बुधवार को राजनीतिक अटकलों के बीच 15 महीने के अंतराल के बाद ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करते हुए राज्य में कुछ रुकी हुई परियोजनाओं को पुनर्जीवित करने की अपील की. प्रधानमंत्री के साथ बैठक को अच्छा बताते हुए ममता ने कहा कि राज्य का नाम बदलने से संबंधित उनका एजेंडा सबसे ऊपर है. उन्होंने कहा, “हमने पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर बांग्ला करने पर चर्चा की और उन्होंने इसके बारे में कुछ करने का वादा भी किया है.”

इसके अलावा बैठक के दौरान रेलवे और खनन से संबंधित रुकी हुई परियोजनाओं व कुछ सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों के विनिवेश के संबंध में भी बातचीत की गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *